Natural Ayurvedic Height Increasing Tips in Hindi

Spread the love

ऊंचाई बढ़ाने के लिए प्राकृतिक आयुर्वेदिक तरीके

एक अच्छी ऊंचाई एक अच्छा व्यक्तित्व को दर्शाती है। हालांकि यह हमेशा सच नहीं है की अच्छी ऊंचाई बहुत सराहना और जरुरी होती है। लेकिन, कभी कभी आनुवंशिकी या पोषण की कमी की वजह से, कई लोगों को अवरुद्ध विकास का सामना करना पड़ता है और एक बिंदु से आगे बढ नही पाते है। ऐसे कई लोग हैं, जो अपनी पूरी जिंदगी कम ऊंचाई की परेशानी का सामना करते है। अवरुद्ध विकास के लिए कई कारण हो सकते हैं – अनियमित जीवन शैली, पोषण आहार की कमी, हार्मोनल विषमता, गंदी आदते जैसे की शराब पीना और धूम्रपान, व्यायाम की कमी, अत्यधिक निराशावाद और चिकित्सा समस्या आदि। एक निश्चित उम्र के बाद, ऊंचाई बढ़ाने के लिए कुछ ज्यादा नही किया जा सकता है। हालांकि, बचपन से, माता पिता को ध्यान रखना चाहिए और अपने बच्चे के विकास को बढ़ाने में मदद करने के लिए कुछ तरीके अपनाने चाहिए। यहाँ दिए गए कुछ आयुर्वेदिक तरीके जिसके द्वारा एक स्वाभाविक रूप से ऊंचाई में वृद्धि हो सकती हैं:

1. योगा – व्यायाम की सबसे पारंपरिक रूप योगा जो विकास सहायता में बहुत ही लाभदायक होती है। कुछ आसान व्यायाम होते है जैसे की मानव विकास हार्मोन है, जो ऊंचाई में वृद्धि के लिए जिम्मेदार होते है। योगा भी मांसपेशियों में तनाव से राहत, इस प्रकार विकास को बढ़ाने में मदद करता है। योगा मांसपेशियों को स्वस्थ बनाकर व्यक्ति में ऊंचाई के विकास में तेजी लाने मे मदद करता है।

2. दूध – दूध मे भरपूर कैल्शियम होता है, जो की हड्डियों के विकास के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होता है। दूध मे विटामिन ए बड़ी मात्रा मे होता है जो की पूरे शरीर के विकास में मदद करता हैI इस प्रकार, प्रत्येक दिन दो-तीन गिलास दूध पीने से ऊंचाई बढ़ाने में मदद मिल सकती है। अन्य डेरी उत्पादक से भी वृद्धि मे मदद मिलती है। बचपन से ही दूध का नियमित सेवन करने से हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ-साथ ऊंचाई बढ़ाने मे भी मदद मिल सकती है।

3. अश्वगंधा – इसे भारतीय जिनसेंग अश्वगंधा भी कहा जाता है, अश्वगंधा ऊंचाई बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, क्योंकि इसमें कई खनिज विकास होते है जो की उचाई बढ़ाने मे महत्वपूर्ण होते है। अच्छे परिणाम पाने के लिए, दूध के एक गिलास मे अश्वगंधा पाउडर डालें और अपने स्वाद के अनुसार चीनी या गुड़ भी मिला दे। 45 दिनों तक इसे लगातार हर पीने से ऊंचाई बढ़ाने में मदद मिल सकती हैं। यह एक बहुत ही पारंपरिक विधि है जो आज भी लोगों के साथ अच्छी तरह से काम करता है।

4. पूरी नींद लेना – अध्ययन से पता चलता है कि हमारे शरीर दिन की तुलना मे रात में अधिक बढ़ता है। इस प्रकार, नींद की कमी से विकास पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। पर्याप्त गहरी नींद ही ऊंचाई बढ़ाने के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होती है। बचपन के दिनों से ही अच्छी नींद मदद आपको एक सभ्य ऊंचाई जो की आपके व्यक्तित्व को अधिक वजन देता है।

5. शारीरिक व्यायाम – खेल जैसे की स्पोर्ट्स व्यक्ति की ऊंचाई मे एक जबरदस्त सकारात्मक प्रभाव दे सकता है। बास्केटबॉल, बैडमिंटन, लॉन टेनिस आदि के साथ-साथ नृत्य, एरोबिक्स और मार्शल आर्ट की तरह आउटडोर खेल, ह-ग-ह (ह्यूमन ग्रोथ हार्मोन) को बढ़ावा प्रदान करके ऊंचाई बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। खींचना, लटकना और लंघना जैसे कई तरह के घर मे किये जाने वाले अभ्यास बहुत तेजी और स्वाभाविक रूप से ऊंचाई बढ़ाने मे मदद कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*